इंटरनेशनल न्यूज़

हमने हत्यारों को माफ कर दिया, मुझे नफरत करना बेहद मुश्किल लगता है: राहुल गाँधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने सिंगापुर दौरे के दौरान शनिवार को आईआईएम के एक कार्यक्रम में छात्रों के बीच पहुंचे. जहाँ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पिता और देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या पर खुलकर बात की. राहुल ने बताया कि उन्होंने और बहन प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपने पिता के हत्यारों को माफ कर दिया है.

इस सवाल का जवाब देते हुए राहुल गांधी भावुक हो गए. उन्होंने कहा, “हम बेहद दुखी थे और आहत थे. कई साल तक हम बेहद गुस्से में भी थे. लेकिन किसी तरह से…हमने पूरी तरह उन्हें माफ़ कर दिया.”

राहुल गांधी ने यहां अपने पिता के साथ साथ अपनी दादी की हत्या के बारे में भी बात की और कहा कि उनके परिवार को इस बारे में पता था कि उन्हें ये कीमत चुकानी पड़ेगी, क्योंकि जब आप गलत के खिलाफ जब भी खड़े होते हैं तो इसकी कीमत आपको जान देकर चुकानी पड़ती है.

राजनीति में हम ऐसी ताकत का सामना करते हैं जो दिखाई नहीं देती है, मगर आपको नुकसान पहुंचा सकती है

राहुल गांधी ने इससे जुड़े कई ट्वीट भी किए हैं. उन्होंने कहा, ‘चोट तो लगी थी. हम कुछ वर्षों तक काफी परेशान रहे, लेकिन अब हमने अपने पिता के हत्यारों को माफ कर दिया है.’

इस बारे में उन्होंने पर कहा कि हमने हमारे पिता के हत्यारों को माफ कर दिया है. कारण चाहे जो भी हो, मुझे किसी भी प्रकार की हिंसा पसंद नहीं है.

राहुल गांधी ने कहा, “मुझे याद है जब मैंने टीवी पर प्रभाकरण के मृत शरीर को ज़मीन पर पड़ा देखा. ये देखकर मेरे मन में दो भाव पैदा हुए.पहला ये कि ये लोग इनकी लाश का इस तरह अपमान क्यों कर रहे हैं और दूसरा मुझे प्रभाकरण और उनके परिवार के लिए बुरा महसूस हुआ.

मैं ये समझने के लिए काफी दर्द से होकर गुजरा हूं. मुझे सच में किसी से नफरत करना बेहद मुश्किल लगता है.”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस सब को साथ ले कर आगे बढ़ना चाहती है, जबकि भाजपा देश के लिए महत्वपूर्ण फैसलों में भी सब को साथ रखने में विश्वास नहीं रखती.

उन्‍होंने कहा कि शिक्षा क्षेत्र में गुणवत्ता सुधार के लिए सार्वजनिक शिक्षा प्रणाली को मजबूत करने की आवश्यकता है, संस्थानो को ज्यादा स्वायत्तता और फंड उपलब्ध कराने की भी आवश्यकता है.

Comments
To Top