अभी अभी

कॉलेजियम की सिफ़ारिश लौटाने का सरकार का फैसला अभूतपूर्व: जस्टिस कुरियन

ANI

न्यायाधीश केएम जोसेफ को शीर्ष अदालत में न्यायाधीश के रूप में पदोन्नति देने की उच्चतम न्यायालय कॉलेजियम की सिफ़ारिश को वापस भेजने का केंद्र सरकार का फैसला अभूतपूर्व है और इस पर व्यापक चर्चा किए जाने की आवश्यकता है.

जोसेफ कुरियन ने केंद्र द्वारा कॉलेजियम की सिफ़ारिश लौटाए जाने से सम्बंधित सवाल क जवाब में संवाददाताओं से कहा, ‘चीज़ें जो नहीं होनी चाहिए थीं, वे हुईं… यह आम धारणा है.” ‘ऐसा कोई पूर्व उदाहरण नहीं है जब कॉलेजियम की सिफ़ारिश वाले नामों को (केंद्र द्वारा) वापस भेजा गया हो. इसलिए मामले पर और अधिक चर्चा किए जाने की आवश्यकता है.’

बता दें कि 10 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट की कॉलेजियम में उत्तराखंड हाई कोर्ट के जज केएम जोसेफ और सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ अधिवक्ता इंदु मल्होत्रा को सुप्रीम कोर्ट का जज बनाए जाने की सिफारिश सरकार से की थी. केंद्र सरकार ने इंदु मल्होत्रा को नाम को तो मंजूरी दे दी, लेकिन केएम जोसेफ की सिफारिश को फिर से विचार करने की बात कहते हुए लौटा दिया था.

Comments
To Top