अभी अभी

कांग्रेस के लिये फिर भाग्यशाली साबित हुए इमरान प्रतापगढ़ी , जितनी सीटों पर किया प्रचार सब पर जीती कांग्रेस।

कर्नाटक चुनाव के बेहद रोमांचकारी मुकाबले के बाद जिन प्रमुख सीटों के नतीजों पर हर किसी की नज़र थी उसमें वो सारी सीटें भी शामिल थीं जिन सीटों पर कांग्रेस के लिये लोकप्रिय शायर इमरान प्रतापगढ़ी ने पिछले दो पखवाड़े से कर्नाटक में मोर्चा संभाला हुआ था ? क्योंकि इमरान ने इसके पहले जब-जब जिन-जिन जगहों पर कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशियों के लिये प्रचार किया है तब-तब उन सारी जगहों पर कांग्रेस ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। फिर चाहे वो नांदेड़ का बहुचर्चित कार्पोरेशन का इलेक्शन हो या मोदी और शाह के गढ़ में ह भाजपा करारी टक्कर देने वाला गुजरात विधानसभा का चुनाव। ऐसे में स्वाभाविक रूप से लोगों की उत्सुकता यही थी की कर्नाटक में इमरान अपने उसी बेहतरीन प्रदर्शन को बरकरार रख पाने में कामयाब हो पाते हैं या नहीं ?

ऐसे में एक तरफ़ जब ये बात पूरी तरह से साफ़ हो चुकी है की कांग्रेस JDS के साथ मिलकर कर्नाटक में सरकार बनाने की कवायद में जुट चुकी है तब वहीं दूसरी तरफ़ अपने प्रशंसकों, शुभचिंतकों, आलोचकों और राजनैतिक पंडितों के इस सवाल का जवाब खुद इमरान ने ही अपने फेसबुक और ट्विटर वाल पर साझा करते हुए लिखा है की………

“मैं राह का चराग़ हूँ सूरज तो नहीं हूँ,
जितनी मेरी बिसात है काम आ रहा हूँ मैं !!

अल्लाह का करम और अवाम की मोहब्बतों का शुक्रिया !
कर्नाटक में जिन जिन सीटों पर मैंने प्रचार किया वो सारी की सारी सीटों जीतने में कामयाब रहे !

बसवाकल्यान से नारायणराव साहब जैसा ज़मीनी नेता 17000 से चुनाव जीतने में सफ़ल रहे!

गुलबर्गा से मरहूम कमरुल इस्लाम साहब की बेवा कनीज फ़ातिमा साहिबा को जिताकर आपने मेरी मेहनत की लाज रख ली।

शिवाजीनगर बैंगलोर से दोस्त जैसे बड़े भाई रौशन बैग साहब को जिताने के लिये शुक्रिया।

शुक्रिया चीतापुर दोस्त प्रियांक खडगे को जिताने के लिये।

कुल मिलाकर आप ये कह सकते हैं कि कर्नाटक चुनाव के तमाम रोमांचक नतीजों के बीच आपके भाई का रिज़ल्ट पूरा सौ प्रतिशन रहा।

गुलबर्गा, बसवाकल्यान, चीतापुर, बैंगलोर, मैसूर……… तमाम चाहने वालों को मुबारकबाद”

INN हिंदी से फोन पर बात करते हुए इमरान ने अपनी मेहनतों के कामयाब होने की खुशी का इज़हार करते हुए बड़े भावुक लहज़े में ये कहा है की कर्नाटक के दस दिनों के बेहद थका देने वाले प्रचार कार्यक्रम और मेरी मेहनत के नतीजे का दिन है आज। बेहद खुश हूँ की कर्नाटक ने मेरे आने का भरम रख लिया और मैने जिन-जिन प्रत्याशियों के लिये प्रचार किया उनके सर जीत का सेहरा बांध दिया।

JDS और कांग्रेस पार्टी के मिलकर सरकार बनाने के सवाल पर इमरान ने कहा की संप्रदायिक ताकतों को रोकने के लिये ऐसी कोशिशों का स्वागत किया जाना चाहिए। कांग्रेस में आगे उनकी भूमिका के सवाल पर इमरान का कहना है की कांग्रेस आलाकमान को जहाँ लगता है की मेरे जाने से संप्रदायिक ताकतों को उनके मिशन में रोका जा सकता वो वहाँ हमेशा अपना 100 % देने के लिये तैयार हैं।

अब जब इमरान ने लगातार तीसरी बार कामयाबी की हेट्रिक लगाकर ये साबित कर दिया है की वो कांग्रेस के लिये बेहद फायदेमंद और भाग्यशाली हैं, तब इस बेहद मुश्किल दौर से गूज़र रही कांग्रेस को भी चाहिए की वो इमरान के साथ एक बड़ी रणनीति के साथ मैदान में उतरकर अपने मुस्लिम वोटों के बिखराव को रोकने के लिये बड़े स्तर पर काम करे। क्योंकि इमरान एक बड़ा और यूवा मुस्लिम चेहरा होने के साथ-साथ देश का एक बड़ा लोकप्रिय चेहरा भी हैं. जिनके पीछे युवाओं का एक बड़ा जनसैलाब है जिसे इमरान वोटों में बदलने की काबिलियत और सलाहियत दोनों रखते हैं।

अब देखना ये दिलचस्प होगा की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल और कांग्रेस आलाकमान आने वाले विधानसभा चुनावों और 2019 के लोकसभा चुनावों में अपने इस भाग्यशाली स्टार प्रचारक का किस तरह इस्तेमाल करती है। अगर कांग्रेस शायरी के दुनियाँ के इस सितारे को आगे भी अपने साथ रख पाने और सलीके से इस्तेमाल करने में कामयाब रहती है तो ये यकीनन कांग्रेस के लिये फायदे का सौदा साबित होगा क्योंकि सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल अरसे से इमरान को अपने पाले में करने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। बेहतर होगा की कांग्रेस इमरान को अपने साथ बरकरार रख पाने में कामयाब रहे है क्योंकि इस समय कांग्रेस को ऐसे चुनाव जिताऊ स्टार चेहरों की सख्त दरकार है।

वीडियो में कर्णाटक के लोग किस तरह इमरान प्रतापगढ़ी का धन्यवाद कर रहे हैं 
आप भी देखें-
b359a3c4-26a4-4169-b118-f07a93cca4ad

Comments
To Top