अर्थव्यवस्था

अब यूको बैंक में 621 करोड़ का घोटाला

यूको बैंक में 621 करोड़ रुपए का घोटाला सामने आया है। इसके बाद केंद्रीय जांच एजेंसी CBI हरकत में आ गई। सीबीआई ने इस मामले में यूको बैंक पूर्व सीएमडी अरुण कौल और अन्य के खिलाफ बैंक से 621 करोड़ रुपए की कथित रूप से धोखाधड़ी करने के लिए मामला दर्ज किया है।

अधिकारियों ने बताया कि कौल के अलावा सीबीआइ ने एरा इंजीनियरिंग इंफ्रा इंडिया लिमिटेड (मेसर्स ईईआइएल), उसके सीएमडी हेम सिंह भराना, दो चार्टर्ड अकाउंटेंट (पंकज जैन और वंदना शारदा), मेसर्स अलटियस फिन्सर्व प्राइवेट लिमिटेड के पवन बंसल और अन्य अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

एजेंसी इस सिलसिले में 10 स्थानों पर छापेमारी कर रही है जिसमें से आठ दिल्ली में और दो मुम्बई में हैं। अधिकारियों ने बताया कि आरोप है कि आरोपी व्यक्तियों ने आपराधिक षड्यंत्र के तहत बैंक लोन की हेराफेरी करके यूको बैंक से (करीब) 621 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की।

कौल 2010 से 2015 के बीच यूको बैंक के सीएमडी थे। इसके बाद सरकार ने उनका कार्यकाल नहीं बढ़ाया। सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने कहा कि कौल के यूको बैंक के सीएडी रहते कई अनियमितताएं हुई। EEIL कंपनी कंस्ट्रक्शन और इंजीनियरिंग का काम करती है।

आपको बता दें कि एक माह के भीतर यूको बैंक में यह दूसरा घोटाला सामने आया है। इससे पहले इस माह के शुरू में सीबीआइ ने कर्नाटक में यूको बैंक में 19.03 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था। इस मामले में 18 लोगों ने गलत नामों से विभिन्न योजनाओं में होम और प्रॉपर्टी लोन लिया था। बैंक ने इस मामले की जांच के लिए सीबीआइ से 27 मार्च को अनुरोध किया था।

Comments
To Top